जयशंकर प्रसाद कृत ‘चन्द्रगुप्त’ (नाटक)

जयशंकर प्रसाद कृत ‘चन्द्रगुप्त’ (नाटक) JaiShankar Prasad ‘Chandragupta’ (Drama) सम्पूर्ण अध्ययन और विश्लेषण जयशंकर प्रसाद का जीवन परिचय- जन्म (1889 -1937) उपनाम ‘कलाधर’, रचना लेखन: ‘ब्रजभाषा’ में। नाटक: सज्जन (1911), कल्याणी परिणय (1912) (जो नागरी प्रचारणी सभा से प्रकाशित हुआ था), प्रायश्चित (1913), करुणालय (1913), राज्य श्री (1915), विशाखा (1921), अजातशत्रु (1922), कामना (1923) में… Continue reading जयशंकर प्रसाद कृत ‘चन्द्रगुप्त’ (नाटक)

जयशंकर प्रसाद कृत ‘ध्रुवस्वामिनी (नाटक)

जयशंकर प्रसाद का जीवन परिचय- जन्म (1889 -1937) उपनाम ‘कलाधर’, रचना लेखन: ‘ब्रजभाषा’ में। नाटक: सज्जन (1911), कल्याणी परिणय (1912) (जो नागरी प्रचारणी सभा से प्रकाशित हुआ था), प्रायश्चित (1913), करुणालय (1913), राज्य श्री (1915), विशाखा (1921), अजातशत्रु (1922), कामना (1923) में लिखा गया और प्रकाशन 1927 ई० हुआ, जनमेजय का नागयज्ञ (1926), स्कंदगुप्त (1928),… Continue reading जयशंकर प्रसाद कृत ‘ध्रुवस्वामिनी (नाटक)

जयशंकर प्रसाद कृत ‘स्कंदगुप्त (नाटक)

जयशंकर प्रसाद का जीवन परिचय- जन्म (1889 -1937) उपनाम ‘कलाधर’, रचना लेखन: ‘ब्रजभाषा’ में। नाटक: सज्जन (1911), कल्याणी परिणय (1912) (जो नागरी प्रचारणी सभा से प्रकाशित हुआ था), प्रायश्चित (1913), करुणालय (1913), राज्य श्री (1915), विशाखा (1921), अजातशत्रु (1922), कामना (1923) में लिखा गया और प्रकाशन 1927 ई० हुआ, जनमेजय का नागयज्ञ (1926), स्कंदगुप्त (1928),… Continue reading जयशंकर प्रसाद कृत ‘स्कंदगुप्त (नाटक)

धर्मवीर भारती कृत ‘अँधा युग’ (नाटक)

धर्मवीर भारती कृत ‘अँधा युग’ (नाटक) का सम्पूर्ण अध्ययन और समीक्षा धर्मवीर भारती का जीवन परिचय: (जन्म 25 दिसंबर 1926 - 04 सितम्बर 1997) धर्मवीर भारती का जन्म 25 दिसंबर 1926 को को इलाहबाद के अतरसुइया मुहल्ले में एक कायस्त परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम श्री चिरंजीव लाल वर्मा और माँ का… Continue reading धर्मवीर भारती कृत ‘अँधा युग’ (नाटक)

मोहन राकेश कृत ‘आधे-अधूरे’ (नाटक)

मोहन राकेश कृत ‘आधे-अधूरे’ (नाटक) का सम्पूर्ण अध्ययन(जन्म 8 जनवरी 1925- 3 जनवरी 1972) मोहन राकेश संक्षिप्त जीवनी- मोहन राकेश का जन्म 8 जनवरी 1925 को अमृतसर, पंजाब में हुआ था। इनका मूल नाम मदन मोहन उगलानी उर्फ़ मदन मोहन था। इनके पिता वकील होने के साथ-साथ साहित्य और संगीत प्रेमी भी थे। पिता के… Continue reading मोहन राकेश कृत ‘आधे-अधूरे’ (नाटक)

प० लक्ष्मी नारायण मिश्र कृत ‘सिंदूर की होली’ (नाटक)

प० लक्ष्मी नारायण मिश्र कृत ‘सिंदूर की होली’ (नाटक) सम्पूर्ण अध्ययन और विश्लेषण पण्डित लक्ष्मीनारायण मिश्र का जन्म (17 दिसंबर 1903 - 19 अगस्त 1987) पण्डित लक्ष्मीनारायण मिश्र की संक्षिप्त जीवनी- पण्डित लक्ष्मीनारायण मिश्र जी का जन्म 1903 में उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले के जलालपुर गाँव में हुआ था। वे हिन्दी के प्रसिद्ध नाटककार थे।… Continue reading प० लक्ष्मी नारायण मिश्र कृत ‘सिंदूर की होली’ (नाटक)

मोहन राकेश कृत ‘आषाढ़ का एक दिन’ (नाटक)

मोहन राकेश कृत ‘आषाढ़ का एक दिन’ (नाटक) का सम्पूर्ण अध्ययन मोहन राकेश संक्षिप्त जीवनी- मोहन राकेश का जन्म 8 जनवरी 1925 को अमृतसर, पंजाब में हुआ था। इनका मूल नाम मदन मोहन उगलानी उर्फ़ मदन मोहन था। इनके पिता वकील होने के साथ-साथ साहित्य और संगीत प्रेमी भी थे। पिता के साहित्य में रूचि… Continue reading मोहन राकेश कृत ‘आषाढ़ का एक दिन’ (नाटक)

शंकरशेष कृत नाटक ‘एक और द्रोणाचार्य’

शंकरशेष कृत नाटक ‘एक और द्रोणाचार्य’ का सम्पूर्ण अध्ययन शंकरशेष जन्म (2 ऑक्तुबर 1933-28 नवम्बर 1981) शंकरशेष का संक्षिप्त जीवनी- डॉ० शंकरशेष हिन्दी के प्रसिद्ध नाटककार तथा सिनेमा के कथा लेखक थे। डॉ शंकरशेष जी का जन्म 2 अक्तूबर 1933 ई० को मध्यप्रदेश के बिलासपुर में हुआ था। उनके पिता का नाम नागोराव विनायक राव… Continue reading शंकरशेष कृत नाटक ‘एक और द्रोणाचार्य’

भारतेंदु हरिश्चंद्र कृत ‘भारत-दुर्दशा’ (नाटक) Bhartendu Harishchndra, ‘Bharat-Durdasha’ (Drama)

भारतेंदु हरिश्चंद्र कृत ‘भारत-दुर्दशा’ (नाटक) Bhartendu Harishchndra, ‘Bharat-Durdasha’ (Drama)  सम्पूर्ण अध्ययन और  विशलेषण भारतेंदु हरिश्चंद्र का जीवन परिचय- भारतेंदु हरिश्चंद्र आधुनिक हिन्दी साहित्य के पितामह कहे जाते हैं। इनका मूल नाम हरिश्चंद्र था। ‘भारतेन्दु’ इनकी उपाधि थी। इनका जन्म 9 सितम्बर 1850 को काशी के एक प्रतिष्ठित वैश्य परिवार में हुआ था। इनके पिता गोपालदास… Continue reading भारतेंदु हरिश्चंद्र कृत ‘भारत-दुर्दशा’ (नाटक) Bhartendu Harishchndra, ‘Bharat-Durdasha’ (Drama)

भारतेंदु हरिश्चन्द्र कृत ‘अंधेर नगरी’ (नाटक) Bhartendu Harishchndra, Andher Nagri (Drama)

भारतेंदु हरिश्चन्द्र कृत ‘अंधेर नगरी’ (नाटक) Bhartendu Harishchandra, Andher Nagri (Drama) का सम्पूर्ण अध्ययन और विश्लेषण भारतेंदु हरिश्चंद्र का जीवन परिचय- भारतेंदु हरिश्चंद्र आधुनिक हिन्दी साहित्य के पितामह कहे जाते हैं। इनका मूल नाम हरिश्चंद्र था। ‘भारतेन्दु’ इनकी उपाधि थी। इनका जन्म 9 सितम्बर 1850 को काशी के एक प्रतिष्ठित वैश्य परिवार में हुआ था। इनके… Continue reading भारतेंदु हरिश्चन्द्र कृत ‘अंधेर नगरी’ (नाटक) Bhartendu Harishchndra, Andher Nagri (Drama)